प्राचीन मंदिरों के शहर: तालाकाडु और सोमनाथपुरा

All Information about Somanathapura Temple, Karnataka
5 मार्च 2019

कुछ दिन पहले जब हमारे एक दोस्त मधुर गौर मैसूर घूमने आए थे, तो उन्होंने अपनी वीडियो में तालाकाडु और सोमनाथपुरा का भी जिक्र किया था। इससे पहले इन दोनों ही स्थानों के बारे में हमने कभी नहीं सुना था। फिर जब हम विस्तार से कर्नाटक घूमने लगे और बादामी, हंपी, बेलूर, हालेबीडू जैसी जगहों पर घूमने लगे, तो बार-बार सोमनाथपुरा और तालाकाडु का नाम सामने आ ही जाता।

तो इसी के मद्देनजर हम आज जा पहुँचे पहले तालाकाडु और फिर सोमनाथपुरा।

तालाकाडु कावेरी नदी के किनारे स्थित है और मैसूर से लगभग 50 किलोमीटर दूर है। किसी जमाने में यह एक अच्छा धार्मिक स्थान हुआ करता था, लेकिन कालांतर में कावेरी में आई बाढ़ों के कारण यह पूरा शहर रेत के नीचे दब गया, जो आज भी दबा हुआ है। कुछ मंदिर रेत के नीचे से झाँकते दिखते हैं, जिनमें पातालेश्वर मंदिर, कीर्तिनारायण मंदिर, मरालेश्वर मंदिर और वैद्येश्वर मंदिर प्रमुख हैं।

तालाकाडु से 25 किलोमीटर और मैसूर से 33 किलोमीटर दूर सोमनाथपुरा स्थित है। इसे होयसला राजाओं ने 13वीं शताब्दी में बनवाया था। मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है और इसकी दीवारों व छतों पर बनी हुई मूर्तियाँ मूर्तिकला की उत्कृष्ट उदाहरण हैं।



इस मंदिर में आज पूजा नहीं होती है, लेकिन पुरातत्व की दृष्टि से यह मंदिर बेहद पवित्र है। मंदिर की दीवारों पर आपको रामायण से, भागवत पुराण से और महाभारत से संबंधित मूर्तियाँ मिलेंगी। साथ ही एक बहुत बड़ा शिलालेख है, जिस पर कन्नड में विस्तार से बहुत कुछ लिखा है। मंदिर बहुत बड़ा नहीं है, लेकिन फिर भी आपको इसे आराम से देखने के लिए आधा दिन जरूर चाहिए।



तालाकाडु के पास कावेरी नदी






तालाकाडु में जो मंदिर रेत से बाहर निकाले गए हैं, उन तक पहुँचने का रास्ता भी रेत से होकर ही जाता है...

पातालेश्वर मंदिर


कीर्तिनारायण मंदिर


वैद्येश्वर मंदिर में भक्त कन्नन की प्रतिमा

कन्नन की एक और प्रतिमा


रेड हैडेड “पता नहीं”...

हमारे साथ-साथ मोटरसाइकिल भी कावेरी में डुबकी लगाने का मन बना रही है...


सोमनाथपुरा स्थित चन्नाकेशव मंदिर




सोमनाथपुरा मंदिर में शिलालेख

सोना भी जरूरी है... और अगर सोमनाथपुरा मंदिर जैसी जगह पर आप खर्राटे लेकर सो रहे हों, तो मंदिर से ज्यादा ‘फोटोजेनिक’ आप हो जाते हो... ऐसा मुझे बाद में दीप्ति ने बताया...






VIDEO





अगला भाग: दक्षिण के जंगलों में बाइक यात्रा


1. दक्षिण भारत यात्रा के बारे में
2. गोवा से बादामी की बाइक यात्रा
3. दक्षिण भारत यात्रा: बादामी भ्रमण
4. दक्षिण भारत यात्रा: पट्टडकल - विश्व विरासत स्थल
5. क्या आपने हम्पी देखा है?
6. दारोजी भालू सेंचुरी में काले भालू के दर्शन
7. गंडीकोटा: भारत का ग्रांड कैन्योन
8. लेपाक्षी मंदिर
9. बंगलौर से बेलूर और श्रवणबेलगोला
10. बेलूर और हालेबीडू: मूर्तिकला के महातीर्थ - 1
11. बेलूर और हालेबीडू: मूर्तिकला के महातीर्थ - 2
12. बेलूर से कलश बाइक यात्रा और कर्नाटक की सबसे ऊँची चोटी मुल्लायनगिरी
13. कुद्रेमुख, श्रंगेरी और अगुंबे
14. सैंट मैरी आइलैंड की रहस्यमयी चट्टानें
15. कूर्ग में एक दिन
16. मैसूर पैलेस: जो न जाए, पछताए
17. प्राचीन मंदिरों के शहर: तालाकाडु और सोमनाथपुरा
18. दक्षिण के जंगलों में बाइक यात्रा
19. तमिलनाडु से दिल्ली वाया छत्तीसगढ़



Comments

Post a Comment