बेलूर से कलश बाइक यात्रा और कर्नाटक की सबसे ऊँची चोटी

March 06, 2019


26 फरवरी 2019
कुद्रेमुख ट्रैक कर्नाटक के सबसे प्रसिद्ध ट्रैकों में से एक है। यह पश्चिमी घाट की पहाड़ियों में है और हमारी इच्छा इस ट्रैक को करने की थी। हम अभी बेलूर में थे और कुद्रेमुख का ट्रैक मुल्लोडी नामक गाँव से शुरू होता है। बेलूर से इसकी दूरी तकरीबन 100 किलोमीटर है और इस दूरी को हम अधिकतम 3 घंटे में तय कर लेते।
लेकिन तभी पता चला कि हम मुल्लायनगिरी चोटी के भी काफी नजदीक हैं। यह चोटी कर्नाटक की सबसे ऊँची चोटी है और इसकी ऊँचाई लगभग 1900 मीटर है।
मुल्लायनगिरी तक पक्की सड़क बनी है। आखिर में 200-250 सीढियाँ चढ़नी होती हैं। यहाँ से चिकमगलूर शहर का शानदार विहंगम नजारा दिखता है।

मुल्लायनगिरी से मुल्लोडी की ओर चलते हैं तो लगभग पूरा रास्ता कॉफी के बागानों से होकर जाता है। असल में चिकमगलूर जिला कॉफी के लिए जाना जाता है।


मुल्लोडी में बहुत सारे होम-स्टे हैं और इनमें से ज्यादातर गूगल मैप पर लिस्टेड हैं। हमने एक जगह फोन करके पूछा। 800 रुपये प्रति व्यक्ति खर्च और इसमें रहना और पूरे दिन का खाना शामिल था। यानी हम दोनों के 1600 रुपये प्रतिदिन। यह हमारे बजट से बहुत ज्यादा था। इसलिए मुल्लोडी से कुछ पहले कलश कस्बे में 500 रुपये में एक लॉज में कमरा ले लिया।


बेलूर से चिकमगलूर की सड़क


मुल्लायनगिरी तक सड़क बनी है...



मुल्लायनगिरी से चिकमगलूर शहर का नजारा दिखता है...





कॉफी









VIDEO








आगे पढ़िए: कुद्रेमुख, श्रंगेरी और अगुंबे

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

2 Comments

Write Comments