Latest News

Tirthan Valley Family Trip


हम तीर्थन वैली की यात्राएँ आयोजित कर रहे हैं... आप स्वयं, सपरिवार, मित्रों के साथ, बच्चों के साथ इनमें भाग ले सकते हैं...

दिनांक: इसके लिए तीन बैच बनाए हैं... आप अपनी सुविधानुसार इनमें से किसी भी बैच का चयन कर सकते हैं...

बैच 1: 15 से 19 मई 2019
बैच 2: 5 से 9 जून 2019
बैच 3: 22 से 26 जून 2019

यात्रा-कार्यक्रम:
दिन 1: गुशैनी आगमन। तीर्थन नदी के किनारे कैंप में रुकेंगे। आराम करेंगे। रात को कैंपफायर।
दिन 2: ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के अंदर रोला कैंपसाइट (10-12 किमी) तक ट्रैकिंग करेंगे। आसान ट्रैक है और फैमिली व बच्चों के लिए एकदम उपयुक्त है। रात्रि विश्राम वहीं टैंटों में होगा।
दिन 3: रोला कैंपसाइट से वापस गुशैनी आएँगे। रात्रि विश्राम कैंप में।
दिन 4: सुबह टैक्सी से प्रस्थान करेंगे और जलोडी जोत जाएँगे। यहाँ से सेरोलसर लेक का ट्रैक करेंगे। ये दोनों स्थान समुद्र तल से 3000 मीटर ऊपर हैं और आसान ट्रैक है। जलोडी जोत से सेरोलसर लेक 5 किलोमीटर दूर है। आज रात शोजा/जीभी में कैंप, होमस्टे या होटल में रुकेंगे।
दिन 5: आज वापसी का दिन है। जिस समय आप चाहें, उस समय वापसी कर सकते हैं।

खर्च: 10000 रुपये प्रति व्यक्ति... 5-10 वर्ष के बच्चे के 8000 रुपये... फैमिली या कपल्स को 1000 रुपये की छूट... 
यदि आप अतिरिक्त दिन रुकना चाहें, तो रुक सकते हैं... इसके लिए आपको 2000 रुपये प्रति व्यक्ति प्रतिदिन देने होंगे, जिनमें केवल पूरे दिन का भोजन और रात्रि विश्राम शामिल होगा... 

इसमें शामिल है...
1. गुशैनी में चेक-इन से शोजा/जीभी में चेक-आउट तक संपूर्ण भोजन और कैंप/होमस्टे/होटल का खर्च...
2. विभिन्न एक्टिविटी जैसे ट्राउट फिशिंग, रिवर क्रॉसिंग, जिप-लाइनिंग आदि...
3. चेक-इन और चेक-आउट के बीच सारा ट्रांसपोर्ट...
4. फोरेस्ट परमिशन, गाइड, पोर्टर का खर्च...
5. GST

इसमें शामिल नहीं है...
1. आपके घर से तीर्थन वैली आने और जाने का खर्च...
2. शॉपिंग
3. अन्य कोई खर्च, जो ऊपर नहीं लिखा है...

रिफंड पॉलिसी:
यदि आप अपनी यात्रा कैंसिल करते हैं, तो यात्रा आरंभ होने के एक दिन पहले तक आपको 75% राशि लौटा दी जाएगी... उसके बाद कोई राशि नहीं लौटाई जाएगी...

यह यात्रा आपके परिवार और बच्चों के लिए एकदम उपयुक्त है... साथ ही अकेली महिला के लिए भी... 

यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार की शराब, बीयर आदि का सेवन करना सख्त प्रतिबंधित रहेगा...

गुशैनी कैसे आएँ?
गुशैनी सड़क मार्ग से जुड़ा हुआ है... आप अपनी गाड़ी से भी यहाँ आराम से आ सकते हैं... मंडी से लगभग 40 किलोमीटर आगे और कुल्लू से 30 किलोमीटर पीछे औट नामक कस्बा है... यहाँ 3 किलोमीटर लंबी एक सुरंग है, जिसे औट टनल कहा जाता है... अगर आप मंडी की तरफ से आ रहे हैं, तो आपको इस टनल में नहीं घुसना है... बल्कि सीधे ही निकल जाना है... यही सड़क आगे बाएँ मुड़कर आपको तीर्थन वैली में पहुँचा देगी... टनल से गुशैनी लगभग 30 किलोमीटर दूर है... 
अगर आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट से आना चाहते हैं, तो मनाली जाने वाली सभी बसें औट से ही होकर गुजरती हैं... आपको औट से गुशैनी के लिए हर आधे घंटे में बस मिल जाएगी... औट से आप टैक्सी भी ले सकते हैं... 

यदि आप मनाली की तरफ से आना चाहते हैं, तो कुल्लू से सीधे गुशैनी के लिए हर आधे घंटे में बसे उपलब्ध हैं... ये बसें गुशैनी से आगे बठाहड़ जाती हैं, जो आपको गुशैनी उतार देंगी...

आप शिमला की तरफ से भी गुशैनी आ सकते हैं... शिमला-रामपुर मार्ग पर नारकंडा से आगे सैंज नामक स्थान से कुल्लू के लिए एक सड़क निकलती है... यही सड़क आपको तीर्थन वैली और गुशैनी पहुँचा देगी... यहाँ से आपको बसें भी मिल जाएँगी... 

शोजा से वापस कैसे लौटें?
शोजा जलोडी जोत के नजदीक स्थित है... यहाँ से आपको कुल्लू जाने वाली बसें नियमित अंतराल पर मिल जाएँगी... आप औट पहुँचकर दिल्ली या अपने शहर जाने वाली बस पकड़ सकते हैं... इसी तरह शोजा से रामपुर की ओर जाने वाली बसें भी नियमित अंतराल पर चलती हैं... आपको सैंज पहुँचकर शिमला और चंडीगढ़ की बसें आसानी से मिल जाएँगी...

आप इस यात्रा को एक सर्किट की तरह भी कर सकते हैं... औट की तरफ से आकर शिमला की तरफ से जाना...

अधिक जानकारी के लिए 7042064959 पर कॉल या व्हाट्सएप करें...


No comments:

Post a Comment

मुसाफिर हूँ यारों Designed by Templateism.com Copyright © 2014

Powered by Blogger.
Published By Gooyaabi Templates